Monday, April 12, 2010

सानिया के नाम खुला खत

प्रिय सानिया,
           आयशा प्रकरण के पटाक्षेप के बाद अब जबकि यह तय हो चुका है कि तुम्हारा निकाह शोएब के साथ होकर रहेगा, मेरे मन में तुम्हारे लिए गहरी सहानुभूति उमड़ आई है। अपने जमाने की मषहूर अभिनेत्री रीना राॅय और मुंबई की आशा पाटिल के बाद तुम शायद तीसरी सेलेब्रिटी दुल्हन बनोेगी, जिसकी ससुराल पाकिस्तान में होगी। हालांकि तुम इन सबके असफल वैवाहिक जीवन की बात सोचकर टेंशन बिल्कुल मत लेना। दूसरी बीबी के रूप में शोएब तुम्हारी अहमियत बखूबी समझेगा। वहीं शादी के बाद भी भारत की ओर से खेलने की बात कहकर तुमने सही मायने में साबित कर दिया है कि खेल के साथ ही पूंजी की समझ तुममें कहीं ज्यादा है।
              शादी के बाद दुबई में रहने का तुम्हारा फैसला भी एक तरह से समसामयिक और हमें राहत देने वाला है। अरे जब तुम्हारे तंग कपड़ों पर भारत में इतना बवाल मच सकता है तो पाकिस्तान में दो-चार फतवे तो जारी हो ही जाने थे। और फिर कुछ बागड़बिल्लों की ओर से देष की विभिन्न अदालतों में तुम्हारे खिलाफ दायर तिरंगे के अपमान के मामलों में भी अब तुम कुछ राहत की सांस ले सकोगी। तुम्हारे दुबई में रहने से हम सब भारतीय उस लानत-मलानत से भी बच सकेंगे, जो तुम्हारे भारत की बेटी के रूप में पाकिस्तान जाने से हमें झेलनी पड़ती। अब हमारे पास कहने को होगा कि सानिया की ससुराल दुबई ही है शत्रु देश पाकिस्तान में नहीं। वैसे भी कारगिल समेत तमाम प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष लड़ाइयों में हमारे वीर सपूतों की जान लेने वाला पाकिस्तान तुम्हें कभी रास आता भी नहीं।
               हालांकि हिंदूवादी संगठनों को जो अपने नारों में पाकिस्तान को भारत का बेटा बताते रहे हैं, अब बदले हालातों मंें खुद को जस्टिफाई करने के लिए नए सिरे से नारों को गढ़ना होगा। वैसे भी तुम्हारी शादी की खबर नहीं पचा पा रहे करोड़ों भारतीयों के साथ ही बाल ठाकरे और कब्वे सादिक जैसे नेताओं की भी तुम परवाह मत करना। यह जिंदगी तुम्हारी है और तुम्हें इस अपने ढंग से जीने का अधिकार है। वहीं तुम्हारे इस फेसले से पाकिस्तान के बंजर टेनिस कोर्ट में सनसनी की उम्मीद करने वाली फिरकापरस्त ताकतों को भी तुमने माकूल जवाब दिया है। हो सकता है कि तुम अगर पाक में रहने का फैसला करतीं तो 1965 और 71 के युद्ध में बुरी तरह से मात खा चुके लोग इस मौके को 2010 की अपनी जीत के रूप में मनाते।
        सानिया, यकीन मानो सोहराब के बाद किसी भी भारतीय वर को न चुनने के तुम्हारे इस कठोर फैसले ने हमारे देश के लाखों मुसलिम युवाओं को तोड़कर रख दिया है। उन्हें डर है कि तुम्हारी तर्ज पर हर मुसलिम लड़की अपने सपनों का शहजादा पाकिस्तान या दुबई में ही ढूंढने लगी तो उनकी दिन दूनी रात चैगुनी रफतार से बढ़ रही जमात का क्या होगा।
         सानिया, अब जबकि तुम्हारे निकाह में ज्यादा समय नहीं है, हमारी इल्तजा है कि हो सके तो शोएब समेत तमाम पाकिस्तानियों से मेहर के रूप में इस मुल्क के लिए अमन और चैन मांग लेना। अंधे इश्क  के चलते बने कुछ घावों का इससे बेहतर मरहम शायद ही कोई हो।

खेल की ही तरह अपने वैवाहिक जीवन में भी लंबी पारी खेलो। इस कामना के साथ...

तुम्हारा शुभाकांक्षी

एक भारतीय नागरिक



6 comments:

  1. This is one of the best blog I've ever read. This is what Sania Aktar deserve for. Anyways.. her life and we can't do anything in it, After marrying to an experience person she'll be feeling delightful. Experience i mean his second legal marriage. Rest god knows how many illegal marriages he has performed :p. But why she'll play from India?? To earn money or what??

    ReplyDelete
  2. pyar andha hota hai. ye koi achha-bura nahi dekhta. sania ke es kadam se india ke karodo logon ka dil dukha hai. lekin koi kar bhi kya sakta hai. jindgi uski hai, use apne dhang se jeene ka adhikar hai.
    -kapil mrt

    ReplyDelete
  3. Well Done...saniya ko nahi.. sirf tumhare jaise writers ko. Bhaut kosis ki woh apna aane wala bhyanak kal dhek sakei.. dher -saver woh aayegi yahin hindustani dharti par ek abla ke roop mein.. yeh 100% sach hai..

    ReplyDelete
  4. KYA BAAT HAI BHAI SAHAB........ YAH PATR SAMACHAR PATR ME PRAKASHIT HONA CHAHIYE.......

    AAJ PREM KE BASH ME HOKAR APNA BHYANAK BHAVISHYA USE DIKHAYI NAHI DE RAHA PAR INAKE SATH HONA BHI YAHI CHAHIYE..... WAISE BHI HINDUSTAN ME 20% SE JYADA HO GAYE HAIN YE LOG.... AISE HI JAYEIN YAHAN SE AUR EK CRICKET TEAM WAHIN PAIDA KAREIN......

    ReplyDelete
  5. Sania should understand that a wrong willfull person like shoaib can not become a good husband. A person who was telling a number of lies till this marriage gossip go around can easilly escaped his responsibility as a good husband. As we look in the past, Pakistane husband never become a dedicated husband to their bride. Pakistani cricket player Imran Khan and his bride Jamina is a good example of this fact.I think this marriage can not go beyond some months. Then girls like sania may understand what a pakistani does mean!

    ReplyDelete
  6. Dr. Chandra MohanApril 15, 2010 at 4:59 AM

    खिलाड़ी अपने लिए नहीं देष के लिए खेलते हैं। ऐसे में किसी भी खिलाड़ी का अपना कोई निजी जीवन नहीं रह जाता। सानिया के इस फैसले से उसे इस स्तर तक पहुंचाने वाले भारतीय समाज के हर तबके को निराषा हाथ लगी है।

    ReplyDelete